Skip to main content
Image

महिलाओं की चोटी काटने के मामले में अपराध कायम 

कोरबा । देह व्यापार के संदेह पर तीन महिलाओं को पीटने के बाद चोटी काटने के मामले में पुलिस ने गजरा बस्ती निवासी चार महिलाओं के खिलाफ  सार्वजनिक रूप से कपड़े फड़कर महिलाओं को अद्र्घनग्न अवस्था में पीटने का अपराध कायम किया है। आरोपी फ रार है। 
मामला मंगलवार और बुधवार की दरम्यानी रात का है। कोरबा जिले के बांकीमोंगरा थाना से करीब एक किलोमीटर दूर गजरा बस्ती में यह घटना हुई। बताया जा रहा है कि यहां एक वृद्धा अकेली रहती है, उसके घर पर काफ ी दिनों से संदिग्ध लोगों का आना-जाना था। मोहल्ले के लोगों को देह व्यापार कराए जाने का संदेह था। मंगलवार की देर रात मोहल्ले के महिलाओं व पुरूषों ने उस वक्त वृद्धा के घर धावा बोला, जब वह घर पर नहीं थी। वृद्धा के घर में एक युवती व दो महिला मिले। आक्रोशित महिलाअंों ने सबके सामने पकड़ी गई महिलाओं को पहले तो बाल पकड़ कर बुरी तरह घसीटते हुए पीटा। इस दौरान एक महिला के कपड़े बुरी तरह फ ट गए। वह दया की गुहार लगाती रही पर किसी ने एक न सुनी और उसी अवस्था में उसके बाल कैची से काट दिये गयें। इसी  क्रम में  एक-एक कर तीनों महिलाओं की चोटी धारदार कैची से काट दी गई। तीनों महिलाएं किसी तरह मौके से भागकर अपनी जान बचाने में सफल रही। इस बीच किसी ने इस पूरे घटनाक्रम को अपने मोबाइल के कैमरे में कैद कर लिया। यह वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो गया। इस बीच जिस महिला के घर देह व्यापार चलने का संदेह था। उसने बताया कि महिलाओं समेत चारों लोग उसके पहचान के ही हैं। सभी मेहमानी में उसके घर आए थे, जिन्हें मंगलवार को वह घर रखवाली के लिए छोड़कर अपने बीमार बेटे को देखने के लिए उरगा गई हुई थी। जब वापस लौटी तो घर का दरवाजा खुला हुआ था। घर में कोई नहीं था। लोगों ने झूठे आरोप लगाकर उन्हें पीटा बर्बरता की गई है।
एडिशनल एस पी कोरबा तारकेश्वर पटेल ने बताया कि वृद्घा की रिपोर्ट पर शकुंतला, जामबाई, संतराबाई व सुमित्रा महंत के खिलाफ  धारा 295, 354, 506, 509, 34 के तहत अपराध पंजीबद्घ किया है। आरोपियों के घर में ताला लगा है, उनकी तलाश की जा रही है, कुछ ठिकानों में दबिश भी दी गई। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।
 

Add new comment

Plain text

  • No HTML tags allowed.
  • Lines and paragraphs break automatically.
  • Web page addresses and email addresses turn into links automatically.